सीएमपीडीआई वेबसाइट पर आपका स्वागत है


           सीआईएल मेल           
हमे फेसबूक पर पसंद करे टिवीटर पर फॉलो करना
ऑनलाइन भर्ती
ऑनलाइन भर्ती


अस्वीकृति

प्रयोगशाला सेवाएं



सी एम पी डी आई की प्रयोगशाला सेवाएं कोयले/लिग्नाइट और खनिजों के समुचित उपयोग और संसाधन गुणवत्ता मूल्यांकन, परिष्करण में श्रेष्ठता का एक केन्द्र है। कोयला विकल्प वैज्ञानिकों (कोल टेक्नोलाजिस्ट) का अधिकतम उपयोग कर उनकी सहायता से रासायनिक, पेट्रोग्रफिक और धोवन क्षमता परीक्षण के जरिए कोयले और लिग्नाइट का गुण निर्धारण करने के लिए उच्च दक्षता प्राप्त श्रम-शक्ति और अद्यतन उपकरणों के साथ विशेषज्ञ सेवाएं प्रदान की जाती है। विगत दो दशकों के दौरान सृजित किए गए गुणवता और धोवन क्षमता परीक्षण आकड़ा, भूवैज्ञानिक रिपोर्ट और खान संभाव्यता रिपोर्ट में कोयले का ग्रेड निर्धारण, वाशरियों की डिजाइनिंग तथा आगे और डाउनस्ट्रीम उपयोगिता के लिए आधार का निर्माण करता है। सम्बन्धित उद्योगों की आवश्यकता को पूरा करने के लिए निरंतर अनुसंधान एवं विकास क्रिया-कलाप किए जा रहे हैं।

रासायनिक प्रयोगशाला


गुण निर्धारण, उपयोग, व्यावसायिक ग्रेडिंग तथा विपणन के लिए कोयले का रासायनिक विश्लेषण करना अनिवार्य है। विभिन्न उद्योगों जैसे बिजली, स्टील, सीमेंट, उर्वरक, रेलवे, घरेलू खपत, ब्रिक्स क्लिन, कपड़ा, चाय, चीनी, शीशा, बर्तन रिफैक्ट्री, कार्बन उद्योग तथा अन्य रासायनिक उद्योगों के लिए कोयले का गुण-निर्धारण करना अनिवार्य है।

12 विभिन्न क्षेत्रों में ‘‘परीक्षण’’ हेतु सीएमपीडीआई, मुख्यालय में उपलब्ध सुविधा के लिए भू-रासायनिक प्रयोगशाला को आईएसओ/आईईसी 17025:2017 मानक के अनुसार एनएबीएल प्रमाण पत्र की मान्यता दी गई है।

विश्लेषण परिणाम की गुणवत्ता तथा निरंतरता बनाए रखने के लिए नेशनल एक्रीडिटेशन बोर्ड फॉर लैबोरेटरी (एनएबीएल) भारत में प्रयोगशाला का मूल्यांकन करने वाला अपने तरह का एक मात्र संस्थान है।

रासायनिक प्रयोगशाला पारंपरिक एवं परिष्कृत उपकरणों से सुसज्जित है तथा समय-समय पर नए उपकरणों को शामिल कर इसे उन्नत किया गया है।

रासायनिक प्रयोगशाला का प्रमुख कार्य विभिन्न स्रोतों जैसे कोल-कोर, आरओएम सेम्पल, चैनेल सेम्पल आदि से प्रारंभ हो कर विभिन्न पारामीटरों का विश्लेषण होता है। भू-वैज्ञानिक रिपोर्ट में शामिल करने के लिए नियमित अंतराल पर गवेषण के स्तर से ही कोयले का चरणबद्ध गुण-निर्धारण किया जाता है।

नमूनों के विश्लेषण के लिए रासायनिक प्रयोगशाला निम्नलिखित परीक्षण (जाँच) सुविधाओं से सुसज्जित है :
  • कोल कोर लॉगिंग एवं नमूने की तैयारी।
  • बैंड बाई बैंड विश्लेषण (राख की प्रतिशतता + नमी की प्रतिशतता का निर्धारण)।
  • प्रोक्सिमेट विश्लेषण (पारंपरिक एवं माइक्रो प्रोसेसर आधारित उपकरण के जरिए राख की प्रतिशतता + नमी की प्रतिशतता + वाष्प्शील पदार्थ की प्रतिशतता + नियत कार्बन की प्रतिशतता का निर्धारण)।
  • सकल तापीय मूल्य (ग्रास कैलेरिफिक बैल्यू) का निर्धारण [जीसीवी (KCAL/kg)]।
  • अल्टीमेट विश्लेषण (कार्बन प्रतिशत, हाइड्रोजन प्रतिशत, नाइट्रोजन प्रतिशत, गंधक प्रतिशत एवं ऑक्सीजन प्रतिशत का निर्धारण।
  • 60 प्रतिशत सापेक्ष आर्द्रता एवं 40 डिग्री सेंटीग्रेड पर नमी का प्रतिशत।
  • ऐश फ्यूजन टेम्परेचर रेंज (इनीशियल डिर्फार्मेशन टेम्परेचर, स्फेरिकल टेम्परेचर, हेमी स्फेरिकल टेम्परेचर एंड फ्लूड टेम्परेचर)।
  • हार्ड ग्रोव ग्राइंडेबिलिटि इंडेक्स (एचजीआई)।
  • फ्री स्वेलिंग इंडेक्स (एफएसआई), क्रूसुबल स्वेलिंग नंबर (सीएसएन)।
  • लो टेम्परेचर ग्रे किंग कोक टाइप (एलटीजीकेसीटी)।
  • स्पेसिफिक ग्रेविटी।
  • प्लास्टोमेट्रिक टेस्ट।


कोल पेट्रोग्राफी प्रयोगशाला


सी एम पी डी आई का कोयला पेट्रोग्राफी प्रयोगशाला, भारतीय/आयातित कोयले के गवेषण स्तर, धोवन क्षमता उत्पाद और गुणवत्ता नियंत्रण पर कार्य करने तथा कोयला/लिग्नाइट का गुण निर्धारण, हाइड्रोकार्बन जेनरेशन के लिए सोर्स राक मूल्यांकन का कार्य करने वाला भारत के प्रमुख प्रयोशालाओं में से एक है। कोल पेट्रोग्राफिक अध्ययन कोयले के माइक्रोस्कोपिक अध्ययन (मेसरल कम्पोजीशन, विट्रीनाइट रिफ्लेक्टेन्स एवं वी टाइप वितरण) के लिए आवश्यक है, जो कोक में कोयले के ब्लेडिंग (मिश्रण) और कोकिंग और नन-कोकिंग के अधिकतम उपयोग हेतु इसके गुण निर्धारण में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करता है।

कोयला पेट्रोग्राफी प्रयोगशाला समय-समय पर अपने को, कोयले के आर्गेनिक और इन आर्गेनिक कन्स्टीटीएन्ट दोनों का शीघ्रता से /विस्तृत रूप से निर्धारण करने के लिए अद्यतन आटोमेटिक उपकरणों से लैस करता है। यह आई सी सी पी का एक्रीडिटेशन प्राप्त करने वाला भारत का एकमात्र प्रयोगशाला है।

यह अपने उच्च प्रशिक्षित और समर्पित श्रम-शक्ति तथा सोफिसटीकेटेड/ आयातित उपकरणों के कारण निम्नलिखित का विश्लेषणः

  • कोकिंग के साथ-साथ नन-कोकिंग कोयले के लिए कोयला गवेषण, वाशरी उत्पाद नियंत्रण, मिश्रण (ब्लेंड) अध्ययनों हेतु कोयले का गुण निर्धारण करने की स्थिति में हैः-

    • मेसरल विश्लेषण
    • विट्रीनाइट रिफ्लेक्टेंस %
    • वी टाइप वितरण
    • कोयले में खनिज

  • कोक पेट्रोलोजी

    • पोर स्ट्रक्चर
    • पोर साइज और पोर साइज वितरण
    • मोजैक साइज
    • फ्रैक्चर का गुण निर्धारण

  • तेल और गैस गवेषण

    • विट्रिनाइट रिफ्लेक्टेंस
    • मेसरल विश्लेषण, लिप्टीनाइट (एक्जीनाइट) फ्लोरेसेंस
    • मच्युरेशन पोटेंशियल
    • थर्मल हिस्ट्री अध्ययन

  • आयल शेले

    • मेसरल विश्लेषण
    • लिफ्टीनाइट (एक्जीनाइट) फ्लोरेसेंस
    • विट्रिनाइट रिफ्लेक्टेंस

  • मिनरलाजिकल फेज विश्लेषण

    • एक्स-रे डिफ्रेक्टोमीटर के जरिए मिनरल्स और फेजों का क्वालिटेटिव और क्वांटिटेटिव अध्ययन
    • एस ई एम द्वारा सी बी एम गवेषण के लिए कोयले का क्लीट अध्ययन और कोल/मेटल राक में खनिजों का शेप, साइज का अध्ययन किया जा रहा है।


कोयला परिष्करण प्रयोगशालाः


कोल प्रिपरेशन लेबोरेटरी आर ओ एम के गुण निर्धारण, वाशरी रिजेक्ट्स बोर होल सैम्पलस तथा लेबोरेटरी स्केल कोल वाशिबिलिटी अध्ययन के लिए देश के कुछ प्रमुख प्रयोगशालाओं में से एक है। यह प्रयोगशाला ग्राहक की आवश्यकतानुसार कोयला नमूनों का व्यापक धोवन क्षमता अध्ययन करता है।

प्रयोगशाला द्वारा पेश किए गए मूल सेवाएं इस प्रकार हैः-

  • सब सैम्पलिंग और सैम्पल की तैयारी
    • आर ओ एम को विभिन्न आकार में संदलन (क्रशिंग)
    • विभिन्न परिमणों में कोयले का स्क्रीनिंग
    • पल्वराइजेशन (चूर्णन)
    • बॉल मिल/ रॉड मिल द्वारा ग्राईंडिंग
  • प्राक्सिमेट विश्लेषण
  • अल्टीमेट विश्लेषण
  • कैलोरीफिक वैल्यू
  • सल्फर का निर्धारण
  • ऐश फ्यूजन टेम्परेचर
  • चूर्ण कोयले के गुण निर्धारण का डिटरमिनेशन
    • फ्रोथ फ्लोटेशन
    • फिल्ट्रेशन
    • सेडीमेंटेशन
    • पी एच
    • वेट सीविंग द्वारा आकार विश्लेषण
  • शेटरिंग का निर्धारण, कोयले का पल्वराइजिंग एवं अबरेजन गुण निर्धारण
    • ड्रॉप शेटर परीक्षण
    • अबरेजन परीक्षण
    • हार्ड ग्रोव ग्राईंडेबिलिटी सूचकांक (इंडेक्स)
    • टिपिकल ड्रम टम्बलर परीक्षण
  • कोयले के केकिंग केरेक्टरीस्टिक का निर्धारण
    • केकिंग इंडेक्स
    • स्वेलिंग इंडेक्स
    • ग्रेकिंग ऐसे (एल टी) कोक टाइप
  • पेट्रोग्राफिक विश्लेषण
    • रिफ्लेक्टेंस मेजरमेंट
    • मेसरल विश्लेषण
    • कोयले में विजिबल मिनरल का विश्लेषण


कोल बेड मीथेन (सी बी एम) प्रयोगशाला


  • गैस डिजार्पसन अध्ययन
  • एडजार्पसन आइसोथर्म का निर्माण
  • गैस कम्पोजिशन अध्ययन
  • कोल कोर को जमा करने के लिए मोबाइल यूनिट


खान प्रयोगशाला सुविधाएं


  • यूनीएक्सियल कम्प्रेसिव स्ट्रेंथ
  • टेंसाइल स्ट्रेंथ
  • शीयर स्ट्रेंथ
  • यंग्स माड्यूल और प्वायजन्स अनुपात
  • बल्क डेसिटी
  • प्रोटोडाय कोनोव इंडेक्सइम्पैक्ट स्ट्रेंथ इंडेक्स, प्वाईंट लोड इंडेक्स और कोन इंडेंटर इंडेक्स
  • ट्राईएक्सियल कम्प्रेसिव स्ट्रेंथ, कोहेजन तथा इंटरनल फ्रिक्सन का एंगल
  • स्लेक डयूराबिलिटी इंडेक्स
  • अब्रासिविटी के सेरचर इंडेक्स


सर्वे और जियोमेटिक्स प्रयोगशाला


  • माइक्रोप्टिक थियोडोलाइट विथ ई डी एम
  • थियोडोलाइट के साथ नार्थ सिकिंग गैरो
  • टोटल वर्कस्टेशन
  • जी पी एस और जी आई एस
  • डैडालस एएडीएस 1268 ए टी एम स्कैनर


गवेषण प्रयोगशाला


  • जियोफिजिकल लागर
  • सिस्मोग्राफ
  • ग्रेविमीटर एवं मैगनेटोमीटर
  • ड्रिलिंग रिग (रोटरी, डी टी एच, कोरिंग)
  • रेसिस्टिविटी मीटर आदि
  • बोरहोल डेविएशन यूनिट
  • एक्वाफायर टेस्टिंग उपकरण


अन्य प्रयोगशाला सुविधाएं


  • माइन वाइन्डर, केज सस्पेंशन गियर, हैवी अर्थ मूविंग मशीन का गैर-विध्वंसक परीक्षण
  • एच ई एम एम, वाशरी उपकरण आदि के लिए इलेक्ट्रानिक कंट्रोल कार्डों का विकास और मरम्मत
  • कोल/कोक यूटिलाइजेशन अध्ययन